Call Us for Consultation
Close
गुरुवार रात अपने अपार्टमेंट में बेहोश पाए गए थे Laal Chand Mahto 

झारखण्ड के प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ और पहले ऊर्जा मंत्री रह चुके Laal Chand Mahto का बीते गुरुवार रात निधन हो गया। लालपुर स्थित अपने अपार्टमेंट के बाथरूम में बेहोश पाए गए पूर्व मंत्री लाल चंद महतो को आनन-फ़ानन में एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहाँ उनको डॉक्टर्स के द्वारा मृत घोषित कर दिया गया। उनके पारिवारिक जनों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से वे काफी बीमार चल ररहे थे और उनका इलाज भी जारी था।
उनके पार्थिव शरीर को बोकारो में बैधकारो स्थित आवास पर लाया जायेगा जहाँ उनके अंतिम दर्शन के बाद दामोदर नदी पर उनका दाह संस्कार किया जायेगा।

तीन बार विधायक भी रह चुके थे Laal Chand Mahto

Laal Chand Mahto 2

झारखण्ड राज्य में सरकार गठन के समय पहले ऊर्जा मंत्री बनाये गए Laal Chand Mahto का राजनीतिक करियर लंबा रहा। उन्होंने गिरडीह के डुमरी विधानसभा से तीन बार चुनाव लड़ा और तीनों ही बार वे विधायक चुने भी गए। उनके राजनीतिक करियर की शुरुआत आरएसएस से जुड़ने और भारतीय जनसंघ के सदस्य बनने से हुई थी। हालांकि बाद में उन्होंने जय प्रकाश नारायण से प्रभावित होकर समाजवादी विचारधारा की तरफ अपना रुख मोड़ लिया था।

पिछड़े लोगों के लिए हमेशा उठायी आवाज

Laal Chand Mahto 1

Laal Chand Mahto को ना केवल झारखण्ड में बल्कि देश में भी अन्य कई स्थानों पर एक पिछड़े दल के नेता के रूप में देखा जाता है। उन्होंने पिछड़ों को 56% आरक्षण दिलाने की लड़ाई हाई कोर्ट तक लड़ी। इसके साथ ही ज़ब झारखण्ड सरकार ने पिछड़ों के आरक्षण को दबाने की कोशिश की तब भी उन्हें Laal Chand Mahto के विरोध का सामना करना पड़ा।

उनके निधन को राजनीति की एक अपूरणीय क्षति बताते हुए कई नेताओं ने अपने आधिकारिक X हैंडल पर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

  • नाम – Laal Chand Mahto
  • जन्म – 10 दिसंबर 1951
  • मृत्यु – 4 अप्रैल,2024
  • पेशा – राजनीतिज्ञ एवं झारखण्ड सरकार में पूर्व ऊर्जा मंत्री

Read This Also: दक्षिण अफ़्रीकी फुटबॉलर Luke Fleurs की लूटपाट के दौरान गोली मारकर हुई हत्या

Add Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *