Call Us for Consultation
Close

वर्ष 2019 में KG Jayan को भारत सरकार ने किया था पद्म श्री से सम्मानित

कर्नाटक संगीत जगत की जानी-मानी हस्ती KG Jayan का आज दिन 16 अप्रैल मंगलवार को अपने घर पर ही निधन हो गया। उनके पुत्र एवं अन्य परिवारीजनों ने बताया कि KG Jayan 89 वर्ष क़े थे और शरीरिक स्वास्थ्य से संबंधित कई दिक्क़तों का सामना कर रहे थे। उनका काफी लम्बे समय से इलाज भी चल रहा था। परिवार क़े लोगो ने जानकारी दी कि उनका बुधवार क़े दिन अंतिम संस्कार किया जाएगा।

संगीत की दुनिया में दिया अभिन्न योगदान

KG Jayan

विशेष रूप से कर्नाटक संगीत क़े क्षेत्र में अपना योगदान देने वाले KG Jayan को कई पुरस्कारों से नवाज़ा गया था। इनमें केरल संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार और हरिवरासनम पुरस्कार क़े साथ ही साथ भारत सरकार की तरफ से दिया जाने वाला चौथा सबसे बड़ा पुरस्कार पदम् श्री भी शामिल है। साल 2019 में उन्हें यह सम्मान प्रदान किया गया था।

संगीत क़े क्षेत्र में की 1000 से भी अधिक नायब रचनाएं

KG Jayan 2


21 नवंबर, 1934 को कोट्टायम में गोपालन थंत्री और नारायणीम्मा के घर जन्मे KG Jayan को शुरू से ही कर्नाटक शास्त्रीय संगीत में विशेष रूची थी। उन्होंने अपने पूरे संगीत करियर में करीब 1000 रचनाएं की लेकिन उनके द्वारा रचित जया-विजया के भक्ति ट्रैक विशेष रूप से भगवान अयप्पा को समर्पित ट्रैक को ख़ास रूप से पसंद किया गया।
इसके अलावा उनकी कुछ सदाबहार रचनाओं में से अय्यनु थुनायय,’ ‘विष्णुमायिल पिरन्ना’, ‘मामला वाज़हुम’, ‘श्रीकोविल नाडा थुरान्नु’, ‘सरणामय्याप्पा स्वामी सरनमयप्पा’, ‘अय्यप्पन थिनथाकाथोम’ और ‘मालामुकलिल वाज़ुम देवा आदि भी हैं जिन्हे आज भी काफी ज्यादा पसंद किया जाता है।
KG Jayan क़े परिवार में उनके दो पुत्र हैं जिनके नाम manoj jayan और biju jayan हैं। इसके अलावा उनकी पत्नी सरोजिनी भी परिवार में शामिल थीं जिनका कुछ वर्ष पूर्व ही निधन हो चुका है।

  • नाम – KG Jayan
  • जन्म – 21, नवंबर,1934
  • जन्म स्थान – त्रावणकोर
  • मृत्यु – 16 अप्रैल, 2024
  • उम्र – 89 वर्ष
  • पेशा – कर्नाटक संगीतकार

Read This Also: प्रसिद्ध कन्नड़ अभिनेता, निर्माता और निर्देशक Dwarakish का निधन

Add Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *